पांच दिन बाद लौटा अपहृत मासूम, सीएम ने पुलिस विभाग को दी बधाई

इम्पेक्ट न्यूज. रायपुर/बिलासपुर।

विराट अपहरण कांड मामले में पुलिस को पांच दिन बाद बड़ी सफलता हाथ लगी। पुलिस ने सुबह 5.30 बजे अपहृत विराट को बरामद कर उसके परिवार को सौंप दिया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने पुलिस के कार्य की सराहना करते हुए ट्वीट पर बधाई दी है।

एसएसपी ओमप्रकाश ने बताया उन्हें जानकारी मिली थी कि विराट को किसी जगह पर छुपाकर रखा गया है जिसके बाद पुलिस दल ने रातभर तफ्तीश करने के बाद विशेष दल ने तड़के करीब पांच बजे एक घर से विराट को बरामद किया। पांच दिन बाद अपने लाडले को सामने देखकर परिवार में खुशी का ठिकाना नहीं रहा।

मासूम विराट को अचानक सामने देखकर उसकी आवाज सुनकर उसके माता पिता को पहले तो यकीन ही नहीं हुआ उनका लाडला घर आ गया है। लेकिन उसे गोदी में उठाने के बाद दोनों अपनी भावनाओं को रोक नहीं पाए।

एसएसपी ओमप्रकाश ने बताया कि रातभर तफ्तीश करने के बाद विशेष दल ने तड़के करीब पांच बजे फुटहा कॉलेज के पास मिनी बस्ती में एक घर से विराट को बरामद किया। पुलिस ने अपहर्ताओं को गिरफ्तार कर हिरासत में ले लिया है। फिलहाल अपहर्ताओं से पूछताछ जारी थी। घटना में पांच से अधिक आरोपियों के शामिल होने की खबर हैं जिनमें से अधिकांश को पकड़ लिया गया है।

आधी रात ऐसे चला ऑपेशन विराट

अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मासूम विराट को मुक्त कराने के लिए आधी रात पुलिस अधीक्षक ने ऑपरेशन चलाया। इसके लिए उन्होंने 50 से अधिक पुलिसकर्मियों को बिलासपुर पुलिस लाइन से रिवाल्वर मुहैया कराई। अपराधियों के लोकशन ट्रेस होने के बाद पुलिस ने सिविल लाइन बिलासपुर क्षेत्र को सील कर दिया। फिर जरहाभाठा मिनी बस्ती के पन्नानगर स्थित उस मकान में दबिश दी, जहां विराट को अपहरणकर्ताओं ने छिपा रखा था। इस पूरे ऑपरेशन में सौभाग्य की बात यह थी कि विराट सबसे पहले एसपी के हाथ लगा और विराट के हाथ आते ही अपहरणकर्ता पर रिवाल्वर तान दिया। पुलिस टीम दरवाजे को तोड़कर कर अंदर दाखिल हुई। पुलिस ने बिहार के 3 आरोपी को हिरासत में लिया है।

सीएम भूपेश किया ट्वीट

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपहृत विराट की सकुशल वापस घर लौटने पर ट्वीट किया है। मुख्यमंत्री ने ट्वीट पर पुलिस विभाग को बधाई भी दी। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा-विराट पांच दिनों बाद सुरक्षित घर लौट आया है। इन पांच दिनों मैं भी परिजनों की चिंता में शामिल रहा। मैं छत्तीसगढ़ की जनता को विश्वास दिलाता हूं कि कानून व्यवस्था के साथ कोई समझौता नहीं होगा और हमारी सरकार हर किसी के साथ खड़ी रहेगी। मुस्तैदी के लिए पुलिस विभाग को बधाई।

गृहमंत्री बोले-कानून व्यवस्था के लिए सरकार दृढ़ संकल्पित

प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने ट्वीट कर विराट की सकुशल घर वापसी पर खुशी जताते हुए पुलिस को बधाई दी है। साहू ने ट्वीट कर कहा कि विराट की सकुशल घर वापसी पर मैं छत्तीसगढ़ पुलिस, बिलासपुर पुलिस और उनकी टीम के सभी सदस्यों को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं। प्रदेश की 2.55 करोड़ जनता की सुरक्षा और प्रदेश में कानून-व्यवस्था के लिए छत्तीसगढ़ पुलिस एवं छत्तीसगढ़ सरकार दृढ़ संकल्पित है।

डीजी बोले, सूझबूझ के साथ की कार्रवाई

इधर, पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने बताया कि सामान्य तौर पर जब भी किसी बच्चे का अपहरण होता है तो पुलिस को काफी ऐहतियात के साथ अपनी कार्रवाई करनी होती है। विराट को जहां रखा गया था वहां बड़ी संख्या में झोपडिय़ां थीं, जहां से उसे निकालना बेहद कठिन था। अपहरणकर्ता खुद को बचाने के लिए बच्चे की जान के साथ खेल सकते थे, लेकिन पुलिस ने काफी सूझबूझ के साथ अपनी कार्रवाई को अंजाम दिया और गैंग के सदस्यों को धर-दबोचा। विराट की बरामदगी के लिए बिलासपुर के एसपी के साथ-साथ दुर्ग और बालोद के एसपी भी विशेष रुप से तैनात किए गए थे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *