बिलासपुर पुलिस ने किया अंतरराष्ट्रीय डाटा हैक कर धोखाधड़ी करने वाले गैंग का पर्दाफाश…

इम्पेक्ट न्यूज. बिलासपुर।

पुलिस ने अंतरराष्ट्रीय डाटा हैक कर धोखाधड़ी करनेवाले गैंग का किया पर्दाफाश। प्रोक्सी सर्वर का उपयोग कर आईपी एड्रेस बदलकर घटना को देते थे अंजाम। इंटरनेशनल मार्केट में लेनदेन के लिए विदेशी मुद्रा का उपयोग करते थे।

एएसपी ओपी शर्मा ने बताया कि नाबालिकों द्वारा अंतरराष्ट्रीय क्रेडिट कार्ड को हैक कर ऑनलाइन महंगी शॉपिंग की सूचना मिली। बच्चे कीमती आईफोन मोबाइल हैंडसेट घड़ी की खरीदी कर रहे हैं। इसके बाद सायबर सेल के सहयोग से गिरोह के पर्दाफाश तब हुआ जब पूछताछ के दौरान तीनों ने अन्तर्राष्ट्रीय ठगी की बात को कबूल किया।

श्री शर्मा ने बताया कि पूछताछ के दौरान तीनों नाबालिको ने जानकारी दी कि अधिक रकम कमाने और शौक को पूरा करने फेसबुक इंस्टाग्राम समेत अन्य मीडिया प्लेटफॉर्म के सहयोग से लड़कियों की फर्जी अकाउंट बनाते हैं। वीडियो कॉलिंग के माध्यम से सामने वाले को कॉल करते और रिकार्डेड वीडियो की धमकी देकर व्यक्ति से ब्लैक मेलिंग करते थे।

ऑनलाइन पेमेंट वॉलेट के माध्यम से वसूली किया करते। ओपी शर्मा ने बताया कि पूछताछ के जानकारी मिली कि तीनों नाबालिक बचपन से ही मोबाइल कंप्यूटर से जुड़े हैं। शौक को पूरा करन ेकई साईट का उपयोग करते करते अंतरराष्ट्रीय क्रेडिट कार्ड हासिल करना शुरू कर दिया। इसके बाद विभिन्न शॉपिंग साइट से महंगे आईफोन आईपैड घड़ी अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण मंगाना शुरू कर दिया। सामानों को सस्ते दामों में बेचकर नगद हासिल कर आपस में बटवारा किया करते थे।

विदेशी मुद्रा खरीदने के लिए भारतीय मुद्रा पेटीएम के माध्यम से जमा करते थे। पेटीएम संचालित करने के लिए तमिलनाडु उड़ीसा से किसी के नाम पर रजिस्टर्ड पेटीएम को हासिल किया। इसी पेटीएम अकाउंट से बिटकॉइन खरीदते। बिटकॉइन क्रेडिट कार्ड का डाटा प्राप्त करने के बाद ऑनलाइन फ्लिपकार्ड गेटवे से मोबाइल ऑर्डर कर खाली पार्सल की फोटो कंपनी को भेज कर रूपए ऐंठने के अलावा पैक से निकाले गए मोबाइल को सस्ते दाम में बेच देते थे।

नाबालिगों के पास से 25 नग से अधिक आइफोन, 2 नग लैपटाप, 1 नग आईपैड, 2 नग आईवाच, फर्जी सिम कार्ड और एक कार जब्त किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *